AQI in Bhiwadi@429 : वायु प्रदूषण के धुएं में सांस ले रही भिवाड़ी, एंटी स्मॉग गन से कर रहे पानी का छिड़काव, अगले सप्ताह सुप्रीम कोर्ट में दायर करेंगे हलफनामा

Advertisement

NCRkhabar@Bhiwadi. औद्योगिक नगरी भिवाड़ी (Industrial City Bhiwadi) में प्रदूषण नई बात नहीं है। हर साल ग्रेप लागू होने से पहले वायु प्रदूषण की रोकथाम के दावे किए जाते हैं लेकिन समस्या को सुलझाने के नाम पर आज तक ठोस उपाय नहीं किए गए हैं। इस बीच माननीय सुप्रीम कोर्ट (Suprim Court) ने राजस्थान (Rajasthan) सहित पांच राज्यों से वायु प्रदूषण की रोकथाम को लेकर अगले सप्ताह हलफनामा मांग लिया है। राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल (RSPCB) के सुझावों पर सरकारी महकमे अमल करते तो आज सांसों पर आए संकट से काफी हद तक बचा जा सकता था। भिवाड़ी में हेल्थ  इमरजेंसी की स्थिति पैदा हो गई है और आसमान में छाई स्मॉग की चादर से लोगों को घुटन महसूस हो रही है। इससे बिना मास्क लगाए लोगों का घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। शुक्रवार को भिवाड़ी का एयर क्वालिटी इंडेक्स लगातार बढ़ रहा है।  दोपहर 12 बजे एयर क्वालिटी इंडेक्स 385 था लेकिन शाम सात बजे 429 तक पहुंच गया। इसके बावजूद जगह-जगह बिल्डिंग मटीरियल व कचरे का ढेर नज़र आ रहा है। भिवाड़ी टोल प्लाजा से टपूकड़ा तक स्टेट हाईवे किनारे कईं स्थानों पर  खुले में बिल्डिंग मटीरियल रखा हुआ है, जिससे रेत के कण हवा के साथ उड़कर लोगों की सेहत को प्रभावित कर रहे हैं।

Advertisement
खिजुरिवास टोल प्लाजा के पास खुले में रखा बिल्डिंग मटीरियल।

 

मास्क लगाकर घरों से बाहर निकलने की सलाह

सोनी हॉस्पिटल के संचालक व वरिष्ठ बाल रोग विशेषज्ञ डॉ राकेश सोनी ने लोगों को बढ़ते वायु प्रदूषण के कारण आवश्यक कार्य होने पर मास्क लगाकर घरों से बाहर निकलने की सलाह दी है।  डॉ राकेश सोनी ने बताया कि स्मॉग छाए रहने व प्रदूषण बढ़ने से बच्चों को आवश्यक कार्य से ही मास्क लगाकर बाहर निकलना चाहिए और खाली पेट नहीं निकलें। उन्होंने कहा सुबह टहलने जाने वाले लोगों को पार्क व हरियाली वाली जगह पर जाना चाहिए।

रीको यूनिट प्रथम की ओर से बिलाहेड़ी के पास जेसीबी से कचरे को हटवाया जा रहा है।

प्रदूषण फैलाने वालों को रीको ने थमाए नोटिस

राजस्थान राज्य औद्योगिक वित्त एवं विकास निगम (रीको) के यूनिट प्रथम के हेड जी. के. शर्मा व द्वितीय यूनिट के हेड शिव कुमार के नेतृत्व में वायु प्रदूषण नियंत्रण के लिए युद्धस्तर पर कार्य किया जा रहा है। दोनों यूनिट में एक-एक  एंटी स्मॉग गन पानी का छिड़काव कर रही हैं जबकि दो-दो एंटी स्मॉग गन आने वाली हैं। भिवाड़ी के सभी औद्योगिक क्षेत्रों में रीको की ओर से औद्योगिक क्षेत्र में एंटी स्मॉग गन, फायर टेंडर व टैंकरों के जरिए पानी का छिड़काव किया जा रहा है। इसके अलावा सड़क पर औद्योगिक कचरा डालने वाले व धुआं फैलाने वाले उद्योगों को नोटिस देकर जुर्माना लगाया जा रहा है। इसी तरह नगर परिषद की ओर से रिहायशी इलाकों में सड़कों की सफाई व पानी का छिड़काव किया जा रहा है। नगर परिषद के मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक दिनेश मीणा ने बताया कि आवसीय क्षेत्र में एंटी स्मॉग गन, फायर टेंडर व टैंकरों के जरिए लगातार पानी का छिड़काव किया जा रहा है।
– वायु प्रदूषण की समस्या समूचे एनसीआर में बनी हुई है। भिवाड़ी में वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए युद्धस्तर पर प्रयास किया जा रहा है। सभी महकमों को उनकी कार्य योजना बता दी गई है और प्रदुषण फैलाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
-अमित शर्मा, आरओ आरएसपीसीबी भिवाड़ी।
–  औद्योगिक भिवाड़ी में एंटी स्मॉग गन, फायर टेंडर व टैंकरों के जरिए पानी का छिड़काव किया जा रहा है। सड़कों की मरम्मत व सफाई नियमित रूप से हो रही है तथा प्रदूषण फैलाने वालों को नोटिस देकर जुर्माना लगाया जा रहा है। रीको की टीमें लगातार औद्योगिक क्षेत्र में गश्त करके प्रदूषण फैलाने वालों पर नजर रख रही हैं, जिससे औद्योगिक क्षेत्र को साफ-सुथरा बनाया जा सके।
रीको यूनिट द्वितीय की ओर से एन्टी स्मॉग गन से किया जा रहा पानी का छिड़काव।
नगर परिषद भिवाड़ी की ओर से एंटी स्मॉग गन से किया जा रहा पानी का छिड़काव।

Leave a Comment

Advertisement
चुनाव विकास के आधार पर लड़ा जाना चाहिए या सांप्रदायिकता पर।
  • Add your answer
Advertisement