भाजपा पार्षद से मारपीट की घटना के बाद नया गांव में दोपहर तीन बजे तक बंद रही दुकानें, धरने पर बैठे रहे लोग

Advertisement
NCRkhabar@Bhiwadi. भिवाड़ी के मुंडाना गांव (Mundana Village) के पोलिंग बूथ पर मतदान के दौरान भाजपा पार्षद नवनीत तिवारी के साथ हुई मारपीट की घटना के बाद रविवार सुबह से नया गांव में दुकानदार अपनी दुकानों को बंद करके धरने पर बैठ गए। इनके समर्थन में भाजपा के स्थानीय नेता भी पहुंच गए तथा माहौल को राजनीतिक रंग देने की कोशिश की। सूचना मिलने के बाद भिवाड़ी डीएसपी मुकेश चौधरी ( Mukesh Chaudhary, DSP) भी धरने पर पहुंचे तथा लोगोंसे बातचीत कर आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। इसके बावजूद लोग धरने पर बैठे रहे तथा भाजपा प्रत्याशी बाबा बालकनाथ के आने के बाद लोगों की समस्याओं को सुना। बाबा बालकनाथ ने डीएसपी मुकेश चौधरी से आरोपियों को जल्द से गिरफ्तार करने को कहा। यहां बता दें कि नया गांव में ज़्यादातर दुकानदार व रेहड़ी वाले यूपी-बिहार के लोग हैं और वार्ड संख्या 50 के पार्षद नवनीत तिवारी भी मूल रूप से बिहार के रहने वाले हैं।
Advertisement
भिवाड़ी के नया गांव में बंद रही दुकानें।

किसी भी कोने में छिप जाओ, एक बार गिरफ्तारी डालूंगा

भाजपा प्रत्याशी बाबा बालकनाथ ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि शनिवार की शाम को वार्ड संख्या 56 के बूथ संख्या 28 पर पार्षद नवनीत तिवारी के साथ मारपीट की घटना हुई थी और वह किसी तरह बचकर आए हैं। पुलिस थाने में नामजद मामला दर्ज हो गया है तथा पुलिस जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी की बात कह रही है। उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यहां से बाहर निकल जाओ नहीं तो गिरफ्तार होना जोड़ेगा। आरोपी किसी भी कोने में छिप जाएं लेकिन एक बार गिरफ्तारी डालूंगा ही डालूंगा।
भिवाड़ी के नया गांव में धरने पर बैठी महिलाएं।

मरे हुए को कब्रों से निकालना हो तो निकाल लो, फिर भी हम ही जीतेंगे

बाबा बालकनाथ ने चुनाव के दौरान रावण का वध करने की बात कही थी। आज उन्होंने कहा कि हर साल विजयदशमी पर रावण का वध होता है। रावण एक चरित्र है, जो देश, समाज व लोकतंत्र विरोधी होता है। आज के समय मे जीवित रावण का वध कानूनी की मर्यादाओं के साथ वध होता है। उन्होंने शनिवार को रात साढ़े आठ बजे तक चली पोलिंग पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कोई बात नहीं, जितने रन हैं उतने ही बनेंगे। उन्होंने विवादित बात बोलते हुए कहा कि मरे हुए को कब्रों से निकालना हो तो निकाल लो लेकिन फिर भी हम ही जीतेंगे। यहां बता दें कि कई पोलिंग बूथ पर मशीन धीरे चलने की वजह से मतदान रात साढ़े आठ बजे तक हुआ था लेकिन मतदाता समय सीमा के अंदर पोलिंग बूथ के अंदर आ गए थे।
धरने पर बैठे लोगों से बातचीत करते भाजपा प्रत्याशी बाबा बालकनाथ।

यह है मामला

 भाजपा पार्षद नवनीत तिवारी ने बताया कि गत शनिवार की शाम को साढ़े चार बजे वह मतदान कर वापस आ रहे थे, तभी स्कूल के बाहर आबिद, मुन्फेद, राशिद, अलीशेर वकील, शहीद व शमीम पुत्र हसन, के अलावा छह-सात अन्य लोगों ने पूछा कि किसको वोट दिया है। तिवारी ने कहा कि लोकतंत्र है और वह किसी को भी वोट दे सकता । इतना कहते ही वह लोग उसके साथ मारपीट की। इसके अलावा उसे भाजपा का आदमी बताते हुए कहा कि तुम यहाँ वोट देने कैसे आए हो। पार्षद नवनीत तिवारी ने कहा कि उन लोगों ने उसका मोबाईल छीन लिया और दुबारा यहां दिखाई देने पर जान से मारने की धमकी दी। किसी तरह वह जान बचाकर मौके से आया है। भिवाड़ी थाना पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है।
धरने पर बैठे लोगों से बातचीत करते डीएसपी मुकेश चौधरी।

के

Leave a Comment

Advertisement
चुनाव विकास के आधार पर लड़ा जाना चाहिए या सांप्रदायिकता पर।
  • Add your answer
Advertisement