द सागर स्कूल (The Sagar School) ने कक्षा बारहवीं के विद्यार्थियों को दी भावपूर्ण विदाई, विद्यार्थियों ने साझा किए अपने अनुभव

Advertisement

 

द सागर स्कूल में आयोजित विदाई समारोह को संबोधित करते मुख्य अतिथि मेजर पराक्रम सिंह राठौड़।

 

Advertisement
EducartionDesk@NCRKhahar.com. तिजारा-फिरोजपुर झिरका रोड (Tijara-Firojpur Jhirka Road) पर स्थित द सागर स्कूल (The sagar School) के बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को शनिवार को भावपूर्ण विदाई दी गई। द सागर स्कूल के प्राचार्य डॉ अम्लान के साहा ने कक्षा बारहवीं के विद्यार्थों को विदाई सन्देश व हार्दिक शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि द सागर स्कूल के पूर्व छात्र मेजर पराक्रम सिंह राठौर थे। मुख्य अतिथि मेजर पराक्रम सिंह राठौड़ (Major Prakram Singh Rathore) ने अपने व्यक्तिगत अनुभवों को साझा करते हुए कहा कि सुविधा क्षेत्र से  बाहर आकर  अपनी अभिरुचि के अनुसार सुनियोजित तरीके से बिना बहाना बनाए निरंतर कठोर परिश्रम करने पर हमें सफलता अवश्य मिलती है। उन्होंने बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को बोर्ड परीक्षा में सफलता के लिए अग्रिम शुभकामनाएं दी। विदाई समारोह में कक्षा बारहवीं के विद्यार्थियों ने विद्यालय का भावपूर्ण अनुभव साझा किया। इस समारोह में विद्यार्थियों का अपने  विद्यालय से प्रेम व लगाव परिलक्षित हो रहा था। विद्यालय की परंपरा के अनुसार कक्षा ग्यारहवीं के छात्र-छात्राओं ने अपने वरिष्ठ विद्यार्थियों के प्रति भावनात्मक स्नेह व बंधन को दर्शाया। विद्यार्थियों ने कहा कि गुरुजनों का आशीर्वाद, कनिष्ठों का प्यार और सागर विद्यालय परिवार की शुभकामनाएं उनकी वार्षिक परीक्षा और भावी जीवन को निश्चित रूप से शक्ति प्रदान करेंगे।
द सागर स्कूल में आयोजित विदाई समारोह में उपस्थित मुख्य अतिथि मेजर पराक्रम सिंह राठौड़, स्कूल स्टाफ व बारहवीं कक्षा के विद्यार्थी।

.

Leave a Comment

Advertisement
चुनाव विकास के आधार पर लड़ा जाना चाहिए या सांप्रदायिकता पर।
  • Add your answer
Advertisement