राजस्थान में निर्बाध और किफ़ायती विद्युत आपूर्ति होगी प्राथमिकता-ऊर्जा मंत्री

Advertisement

NCRkhabar@Jaipur. ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  हीरालाल नागर ने सोमवार को शासन सचिवालय के मंत्रालय भवन स्थित अपने कक्ष में विधिवत रूप से कार्यभार ग्रहण किया। उर्जा विभाग के प्रमुख शासन सचिव भास्कर ए सावंत ने पुष्पगुच्छ भेंट कर ऊर्जा मंत्री का स्वागत किया।

Advertisement
इस दौरान नागर ने कहा कि ऊर्जा विभाग हर वर्ग से जुड़ा हुआ विभाग है। एक प्रदेश की आर्थिक तरक्की उसकी ऊर्जा उपलब्धता, उत्पादन और सुदृढ़ वितरण तंत्र पर निर्भर करती है। उन्होंने कहा कि बेहतर प्रबंधन से डिस्कॉम्स को आर्थिक रूप से मजबूत बनाकर उपभोक्ताओं को किफ़ायती एवं पर्याप्त विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करना तथा प्रदेश में बिजली घरों के लिए कोयले की पर्याप्त आपूर्ति उनकी प्राथमिकता रहेगी। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि विभाग द्वारा किसानों को दिन के समय विद्युत आपूर्ति उपलब्ध कराने की सभी संभावनाओं पर कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में अपार संभावनाए मौजूद हैं अतः इस दिशा में विभाग द्वारा बेहतर रणनीति से प्रयास कर प्रदेश को ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर और अग्रणी राज्य बनाएँगे। नागर ने कहा कि राज्य की ऊर्जा जरूरतों और नई संभावनाओं को देखते हुये विभाग के अधिकारियों को संवेदनशीलता और बेहतर कार्य योजना के साथ कार्य करने के निर्देश दिये जाएंगे, जिससे प्रदेश में ऊर्जा की निर्बाध आपूर्ति हो सके। इस दौरान उपस्थित परिजनों और विभागीय अधिकारियों ने उन्हे कार्यभार संभालने की बधाई दी।
जयपुर में कार्यभार ग्रहण करते ऊर्जा मंत्री।

Leave a Comment

Advertisement
चुनाव विकास के आधार पर लड़ा जाना चाहिए या सांप्रदायिकता पर।
  • Add your answer
Advertisement