भिवाड़ी जिला स्पेशल टीम (डीएसटी) ने ट्रक चालक को बंधक बनाकर टायर व अन्य सामान लूटने वाली गैंग के दो बदमाशों को किया दस्तयाब, लूट के मामले में छह साल से थे फरार

Advertisement

भिवाड़ी जिला स्पेशल टीम (DST) ने ट्रक चालक को बंधक बनाकर टायर व अन्य सामान लूटने वाली गैंग का पर्दाफाश कर आरोपी ईरफान व सहकुल को दस्तयाब किया है। दोनों आरोपी अलवर के मालाखेड़ा व कोटा ग्रामीण के मोडक थाना क्षेत्र में हुई लूट की वारदात में छह सककल से फरार चल रहे थे। आरोपी ईरफान पूर्व में हसली छीनने वाली गैंग का मुख्य सरगना रहा है तथा तकरीबन दो दर्जन मामलों में जेल जा चुका है।
Advertisement

कोटा ग्रामीण के मोडक व अलवर के मालाखेड़ा में की थी लूट की वारदात

भिवाड़ी जिला स्पेशल टीम (डीएसटी) प्रभारी एसआई दारा सिंह ने बताया कि पुलिस अधीक्षक योगेश दाधीच के आदेशानुसार वांछित फरार आरोपियों को पकड़ने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि गत 24 अगस्त 2018 को रामप्रकाश पुत्र गोपीलाल ने थाना मोडक जिला कोटा ग्रामीण में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि वह टेलर लेकर मगंलम फैक्ट्री कोटा से होता हुआ ट्रान्सपोर्ट जा रहा था। इस दौरान ट्रेलर के आगे ट्रक लगाकर तीन चार लोगो ने उसे पकड कर हाथ पैर बाधंकर गाडी में पटक दिया और गाडी को जगंल में ले गये और बाद में मुझे और गाडी को छोडकर टायर और दो बैटरी खोलकर ले गए। उधर रुदन पुत्र दुन्नी खान ने अलवर के मालाखेड़ा पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि 12 अगस्त 2018 को ट्रक के आगे गाडी लगाकर उसके हाथ पैर बाधंकर पटक दिया और गाडी के 15 टायर रिम सहित और दो बैटरी खोलकर ले गये।

खेड़कीदौला इलाके से किया दस्तयाब

डीएसटी प्रभारी दारा सिंह ने बताया कि भिवाड़ी एसपी योगेश दाधीच ने ईनामी बदमाश लूट, डकैती, रगंदारी, फायरिंग, गौतस्करी अवैध हथियार के मामलो में फरार चल रहे बदमाशान की गिरफ्तारी करने के जिला स्पेशल टीम को निर्देश दिया। इसके बाद डीएसटी ने वाछित अपराधियों को चिंहित कर उनकी आसूचनाऐं सकंलित की गई तो अलवर जिले के थाना मालाखेडा व कोटा ग्रामीण के मोडक थाने में दर्ज लूट के मामले में छह साल से फरार चल रहे मुल्जिम ईरफान उर्फ ईक्का (29) पुत्र आकूब उर्फ बूटा व सहकुल उर्फ काला (30) पुत्र छोटू मेव निवासी बाघोर थाना तिजारा भिवाडी जो करीब 6 साल से फरार चल रहे हैं। डीएसटी कांस्टेबल गोपीचन्द को सूचना मिली कि दोनों आरोपी मानेसर गुरुग्राम की तरफ गये हुए हैं। सूचना मिलने पर डीएसटी प्रभारी एसआई दारा सिंह, हेड कांस्टेबल मंदीप सिंह, सुनील व ओमप्रकाश तथा कांस्टेबल कुलवीर व गोपीचंद की टीम दोनों आरोपियों को गुरुग्राम के खेडकीदोला थाना ईलाका से दस्तयाब कर भिवाड़ी लाई और कोटा ग्रामीण के मोडक थाना को सुपुर्द किया गया।
भिवाड़ी जिला स्पेशल टीम की गिरफ्त में लूट के वांछित आरोपी।

 

Leave a Comment

Advertisement
चुनाव विकास के आधार पर लड़ा जाना चाहिए या सांप्रदायिकता पर।
  • Add your answer
Advertisement