के हरियाणा से सटे किशनगढ़बास थाना क्षेत्र में चल रही थी गोमांस की मंडी, समूचा थाना लाईन हाजिर, एएसआई समेत चार पुलिस कर्मी निलंबित

NCRkhabar@Bhiwadi. राजस्थान की भजनलाल शर्मा सरकार ने मेवात में गोतस्करों के खिलाफ खड़ा एक्शन लिया है। खैरथल तिजारा जिले के किशनगढ़बास थाना क्षेत्र ( Kishangarhbass Police SE Area) के रुंध गिदावड़ा गांव में गोकशी करने के बाद मंडी लगाकर गोमांस का मामला उजागर होने के बाद सरकार व प्रशासनिक अमला हरकत में आया है। वन एवं पर्यावरण राज्यमंत्री व अलवर शहर विधायक संजय शर्मा ने सोमवार को मौके पर जाकर स्थिति का जायजा लिया तथा आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का करवाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि सरकारी जमीन पर कब्जा कर खेती करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई होगी। 
उधर गोकशी की सूचना मिलने पर जयपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक उमेशचंद दत्ता (IGP Umesh chand Datta) रविवार को मौके पर पहुंचे तथा गोकशी के सबूत मिलने पर किशनगढ़बास थाना एसएचओ दिनेश मीणा समेत समस्त स्टाफ को लाइन हाजिर कर दिया है जबकि लापरवाही पाए जाने पर एएसआई ज्ञानचंद, हेड कांस्टेबल रघुवीर, बीट कांस्टेबल स्वयं प्रकाश व रविकांत को निलंबित किया गया है। मामले की जांच कोटपूतली बहरोड एसपी नेमीचंद को सौंपी गई है। यहां बता दें कि घटनास्थल किशनगढ़बास विधानसभा क्षेत्र के रुंध गिदावड़ा व रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र के बिरंगपुर गांव के निकट आता है। रामगढ़ व किशनगढ़बास विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के विधायक हैं।

 

पुलिस ने चलाया सर्च अभियान

 

आईजी उमेशचंद के नेतृत्व में खैरथल तिजारा एसपी सुरेंद्र सिंह, भिवाड़ी एसपी योगेश दाधीच,।किशनगढ़बास डीएसपी सुरेश कुड़ी व तिजारा डीएसपी मुनेश समेत बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों ने रुंध के बीहड़ इलाकों में तलाशी अभियान चलाकर  12 बाईक व एक पिकअप जब्त किया है। हालांकि पुलिस के पहुँचने से पहले गोतस्कर गांव छोड़कर भाग गए हैं। आईजी ने बताया कि किशनगढ़बास थाने के स्टाफ को लाईन हाजिर कर दिया गया है और मौके से लिये गए नमूने की जांच करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि मामले की गहनता से जांच कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

 मंडी लगाकर बेचते थे गोमांस

किशनगढ़बास थाना क्षेत्र के रूंध और गिदावड़ा व बिरंगपुर के जंगलों में गोवध करने का मामला नया नहीं है बल्कि पिछले कई सालों से यह गोकशी की शिकायत मिल रही है। यहां मंडी रोजाना 12 से 3 बजे तक लगती है , इसमें कई युवा भी शामिल हैं जो बिना नम्बर की चोरी की मोटरसाइकिल पर राजस्थान व हरियाणा के आसपास के पचास से गांवों तक घूमकर गोमांस बेचते हैं। गोमांस बेचने का सिलसिला चलता रहा लेकिन पुलिस मूकदर्शक बनी रही।

गोकशी के मामले पर होने लगी राजनीति

गोकशी का मामला उजागर होने के बाद इस मामले पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक व मेवात विकास बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष जुबेर खान ने  प्रदेश में बीजेपी की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस मामले में सरकार को पुलिस कर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज करना चाहिए. उन्होंने कहा बीजेपी की कथनी और करनी में अंतर है और इनकी गोभक्ति दिखावे की है। उधर अलवर शहर के भाजपा से दो बार विधायक रहे बनवारी लाल सिंघल ने कहा कि मेवात का यह इलाका संवेदनशील है और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की।

किशनगढ़बास थाना क्षेत्र में गोकशी करने वाले क्षेत्र में हो रही बुलडोजर की कार्रवाई।

 

Leave a Comment